Home / National News / बच्चों के हत्या, आरोपियों के बहिष्कार पर रविवार को होगी पंचायत

बच्चों के हत्या, आरोपियों के बहिष्कार पर रविवार को होगी पंचायत

बच्चों के हत्या, आरोपियों के बहिष्कार पर रविवार को होगी पंचायत

चंडीगढ़,(ईशान टाइम्स)। हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के गांव सारसा के समीर, सिमरन और समर की निर्मम हत्या में पिता और चाचा का नाम आने से सभी स्तब्ध है। क्षेत्र के लोग आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। गांव वाले अब आरोपियों के बहिष्कार पर विचार कर रहे हैं। इसके लिए गांव में रविवार को बाकायदा पंचायत का आयोजन होगा।

गांव वासियों का कहना है कि अपने ही बच्चों की हत्या करने जैसा कुकृत्य आज से पहले कभी नहीं सुना। इस कुकृत्य में शामिल आरोपियों से किसी भी प्रकार से मानवता की आस नहीं की जा सकती। ऐसे लोगों का समाज में कोई स्थान नहीं है। ऐसे लोगों का सामाजिक बहिष्कार होना चाहिए। जिससे कोई भी ऐसा कुकृत्य न कर सके। इसके लिए रविवार को गांव में पंचायत होगी। उसमें इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा। गांव के सरपंच कर्मवीर ने बताया कि बच्चों के अंतिम संस्कार के बाद आरोपियों के बहिष्कार पर विचार किया गया था। इसमें किसी निर्णय पर नहीं पहुंच सके। अब रविवार को गांव में पंचायत होगी। इस पंचायत में बच्चों की मां सुमन के मायके वालों को भी बुलावा भेजा गया है। उनके समक्ष ही निर्णय पर विचार होगा।

पूरा गांव बच्चों के साथ

गांव के लोगों का कहना है पूरा गांव बच्चों के लिए इंसाफ की मांग कर रहा है। इसमें जरा सी चूक बर्दाश्त नहीं होगी। यदि पुलिस या परिवार के लोग किसी भी आरोपी को बचाने का प्रयास करेंगे तो पूरा गांव उनके खिलाफ हो जाएगा। फिलहाल वे पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट हैं। यदि इस मामले में किसी भी प्रकार की कोई चूक हुई, तो सीबीआई जांच की मांग करेंगे।

राज्य बाल संरक्षण आयोग के सदस्य ने परिवार से की मुलाकात

राज्य बाल संरक्षण आयोग के सदस्य परमजीत बडोला वीरवार को गांव सारसा पहुंचे और पीड़ित परिवार से मुलाकात की। बडौला ने कहा कि आयोग इस दुख की घड़ी में परिवार के साथ है। किसी भी प्रकार की मदद के लिए आयोग उनके साथ हैं और वह उनसे कभी भी संपर्क कर सकते हैं। इस दौरान उन्होंने पुलिस को निर्देश दिए कि इस मामले में किसी प्रकार की चूक नहीं होनी चाहिए। पुलिस बगैर दबाव के इस मामले में कार्रवाई करे। बच्चों के दादा जीताराम ने बताया है कि वह पुलिस द्वारा की कार्रवाई से संतुष्ट हैं।FB_IMG_1511510320555
कुरुक्षेत्र पुलिस ने ट्रिपल मर्डर केस में बच्चों के पिता सोनू पर अब तक रिपोर्ट नही की दर्ज,और हत्यारे जगदीप की पत्नी को बना रहे सरकारी गवाह ……ग्रामीणों से नही लिया बयान —–गुरुग्राम के प्रदुम्न हत्या कांड की तरह बरत रहे कोताही ….रविवार को होगी गाँव मे पंचायत पुलिस के लचर रवैये पर उठ रही उंगली, सोनू बच्चों के पिता का नाम लिया था हत्यारे जगदीप ने नाम पुलिस उसका नाम न लेने के लिए जगदीप को कर रही टॉर्चर ,सोनू से नही हुई कोई भी बात , प्रोपर्टी हथियाने को हुआ बच्चो का कत्ल क्योंकि बच्चों के पिता ने कुछ दिन पूर्व अपनी प्रेमिका से शादी करने को दबाव बनाया था परिवार में ,सोनू के पिता ने यानी बच्चों के दादा ने कहा था कि तू अगर ऐसा काम करेगा तो मै प्रोपर्टी बच्चों के नाम कर दूंगा तो उस वक्त सोनू के ससुराली भी इस झगड़े में गांव सारसा आये थे । सोनू की पत्नी सुमन का तीन बच्चों के बाद ओप्रेसन हो चुका है । अतः सोनू ने अपने दूसरे विवाह के लिए बच्चों का कत्ल अपने चचेरे भाई जगदीप उर्फ आसू से करवा दिया । जगदीप के पिता ,बुआ और भाई की संदिग्ध परिस्थिति में मृत्यु हो चुकी है ग्रामीण जगदीप के द्वारा इन छोटे बच्चों की हत्या करने के कृत के बाद इस एंगल से भी बात कर रहे । सोनू के बाप जीता पर भी कुछ रिस्तेदार दबाव बना रहे हैं । जगदीप के ससुराल का एक रिस्तेदार जो कि कुरुक्षेत्र पुलिस में अधिकारी है वो इस मामले में केस को जांच से भटकाने का कार्य कररहा है ।
ग्रामीण एकजुट हो केस को cbi को जांच और फास्ट ट्रैक कोर्ट से केस देखने की मांग को ले कर रविवार दोपहर बाद पंचायत करेंगे ।

देखिये पूरी घटना

About ishantimes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Show Buttons
Hide Buttons