Home / National News / हरियाणा सरकार मंत्रिमंडल में हो सकता है बड़ा फेर-बदल

हरियाणा सरकार मंत्रिमंडल में हो सकता है बड़ा फेर-बदल

         breaking_news15 मंत्रियों पर गिर सकती है गाज, 2 को ईनाम, 2 नई एंट्री
चंडीगढ़ ( संजय शर्मा )खट्टर कैबिनेट में 2 राज्य मंत्री को अच्छे काम की वजह से पदोन्नति, तो 3 की छुट्टी की जा सकती है  ,सूत्रों का दावा है कि एक कैबिनेट मंत्री पर भी गाज गिर सकती हैपिछले दिनों हरियाणा में हुए जाट आंदोलन के बाद से हरियाणा की राजनीति में उथल-पुथल थमने का नाम नहीं ले रहीअब ऐसी खबरें आ रही है कि खट्टर सरकार के मंत्रीमंडल में फेर-बदल किया जा सकता है|विश्वस्त सूत्रों के अनुसार खट्टर कैबिनेट में 2 राज्य मंत्री को अच्छे काम की वजह से पदोन्नति, तो 3 की छुट्टी की जा सकती है

    सूत्रों का दावा है कि एक कैबिनेट मंत्री पर भी गाज गिर सकती है बताया जा रहा है कि इनके काम से ना तो खट्टर खुश है और ना ही हाईकमान इन दिनों हरियाणा की राजनीति में सेंसेक्स से भी ज्यादा उतार-चढ़ाव देखा जा सकता है, विश्वस्त सूत्रों ने दावा किया कि 3 ब़ड़े मंत्रियों के विभागों में भी फेर-बदल किया जाएगा|सीएम खट्टर के करीबी कहे जाने वाले दो मंत्रियों का विभाग बदलकर उन्हें दूसरे विभागों में लगाया जाएगा साथ ही सूत्र का ये भी कहना है कि 1 मंत्री को सरकार से हटाकर संगठन में भेजा जा सकता है|हरियाणा के बीजेपी प्रभारी अनिल जैन को पार्टी ने ये जिम्मेदारी सौंपी है कि वो विधायकों और आम लोगों से इस पर फीडबैक लें कि कौन मंत्री जनता की उम्मीदों पर खरा उतर रहा है और कौन सिर्फ समय बिता रहा है

    ज्ञात हो कि खट्टर सरकार के डेढ़ साल के कार्यकाल में कई विवाद हो चुके है| हर मौके पर विपक्ष ने खट्टर सरकार पर ये आरोप लगाया कि सरकार चीजों को अच्छे से हैंडल करने में नाकाम है |हरियाणा में बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार है फिर भी फैसले लेने में ना-नुकुर करते हुए देर-सवेर वो फैसले ले रहे है इसके कई उदाहरण है, जैसे ही हरियाणा में बीजेपी सरकार बनी थी, स्वयंभू संत रामपाल का मामला हो गया था, तीन दिन के हाईवोल्टेज ड्रामे के बाद रामपाल को पुलिस ने गिरफ्तार किया, सरकार की इस मसले पर काफी आलोचना हुई थी, फिर इसी साल जाट आंदोलन को ही ले लिजिये, सरकार द्वारा कार्रवाई को लेकर काफी आलोचना हुई।

               बीजेपी के सांसद और विधायक ही खुलेआम कहते है कि हरियाणा में जाट आंदोलन में बीजेपी के दो सांसद भी शामिल थे
करनाल सांसद अश्विनी चोपड़ा ने एक निजी न्यूज चैनल से बात करते हुए खुलेआम कहा था कि जाट आंदोलन भड़काने में सरकार के भी दो मंत्री शामिल थे, हलांकि नाम पूछे जाने पर उन्होने कहा कि नाम नहीं लूंगा आप समझ जाइए ,दूसरी ओर कुरुक्षेत्र सांसद राज कुमार सैनी पार्टी लाइन से आगे बढ़कर खुलेआम ऐलान कर रहे है कि जाट आंदोलन किसने भड़काया, किसके इशारों पर हरियाणा के लोगों की गाढ़ी कमाई का करोड़ों रुपया फूंका गया
अभी कुछ दिन पहले ही बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह हरियाणा आए थे, हरियाणा में जाट लैंड कहे जाने वाले गोहाना में उन्होने सभा की, लेकिन इस सभा में जितनी उम्मीद की जा रही थी, उतनी भीड़ नहीं जुटीबताया जा रहा है कि जितनी कुर्सियां लगाई गई थी, आधे से ज्यादा खाली रही। इस बात से भी अमित शाह नाराज है, उनकी नाराजगी ये है कि अभी-अभी हरियाणा में जाटों को आरक्षण देने के बाद भी अगर भीड़ जुटाने में नाकाम है तो आगे क्या होगा, सभी जानते है।

About ishantimes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Show Buttons
Hide Buttons